आह्वान

28 Apr
                           अमन -चैन का जहाँ बसाएँ,
                      आओ, हम नवफूल खिलायें l

                                        सच्चाई के पथ पर चलकर,
                                              इस जीवन को सफल बनायें  l l

                          परमपिता से प्रीत जोड़कर,
                                अपना अंतर्मन महकायें l
                                        काम-क्रोध औ’  लोभ मोह के,
                                               पथ को तज, आगे बढ़ जायें  l l

                           प्रेम – प्यार का अमृत  पी लें,
                                 गम त्यागें, हरदम हरसाएं l
                                    धन संग्रह औ भौतिक सुख  से,
                                                 बचकर नव – उपवन महकाएँ  l l

                         मन का मैल, कलुष्ठता  धो  लें,
                                 निज चरित को हम चमकाएँ l
                                         बैर, द्वेष औ’ कलह-कपट को,
                                                छोड़ आज सच्चे बन जाएँ   l l

                         जीवन – सुमन खिलेगा तब ही,
                                 प्रभु से जब हम नेह लगाएँ l
                                         आज वक्त का यही  तकाज़ा,
                                                सच्चाई को हम अपनाएँ l l

प्रो. डा. शरदनारायण जी  खरे (मंडवा ) द्वारा रचित एवं ब्रह्मा  कुमारी आत्म प्रकाश ज्ञानामृत भवन शांतिवन, आबू रोड द्वारा सम्पादित एवं प्रजापति ब्रह्मा  कुमारी ईश्वरीय विश्व विद्यालय हेतु प्रकाशित मासिक  पत्रिका ‘ ज्ञानामृत ‘ से साभार.

Advertisements

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / Change )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / Change )

Connecting to %s

%d bloggers like this: